18
January - 2018
Thursday
SUBSCRIBE TO NEWS
SUBSCRIBE TO COMMENTS

युवा वर्ग उद्यमी बनकर विकास में सहभागी बने – मुख्यमंत्री श्री चौहान

Posted by mpsamachar On February - 2 - 2013Comments Off on युवा वर्ग उद्यमी बनकर विकास में सहभागी बने – मुख्यमंत्री श्री चौहान

Shivraj-Singh-Chauhan1मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि राज्य सरकार द्वारा रिक्त संविदा शिक्षक वर्ग के साथ ही अन्य शासकीय विभागों के रिक्त पदों की पूर्ति की जायेगी। उन्होंने युवा वर्ग का आव्हान किया कि वह उद्यमी बने प्रदेश के विकास में सहभागी बने। प्रदेश सरकार ऐसे उद्यमियों के लिये बैंकों से अनुबंध कर रही है। उद्योग स्थापना के लिये 50 हजार रूपये तक के ऋण की बैंक गारंटी सरकार देगी और 5 साल तक ब्याज भी भरेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज पचोर में नगर पंचायत द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय एवं डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी की प्रतिमाओं के अनावरण एवं 6 करोड़ 47 लाख रुपये की लागत से निर्मित विभिन्न विकास कार्यो के लोकार्पण समारोह को सम्बोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जिले में उद्योग धंधे खोलने के लिए सरकार मदद करेगी। युवा वर्ग स्वरोजगार के लिये उद्योग धंधे की स्थापना करें ताकि बेरोजगारी दूर हो। ग्रामीण स्तर पर छोटे-छोटे गृह और कुटीर उद्योग प्रारम्भ किये जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार गरीबों के लिये कई योजनायें संचालित कर रही, जिससे सभी लोग लाभान्वित हो रहे हैं। एक फरवरी से पूरे प्रदेश में निःशुल्क पेैथालॉजी योजना भी प्रारम्भ की गई है। इससे गरीबों को अपने खून आदि के परीक्षण कराने की निःशुल्क सुविधा मिलेगी।

मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना सहित विभिन्न जन-कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि सरकार हर वर्ग के लिये योजनायें तैयार कर उन्हें संचालित करा रही है। इसी क्रम में मुख्यमंत्री नल-जल योजना, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना भी तैयार की जा रही है, जिसका शीघ्र ही क्रियान्वयन होगा। वास्तविक पाला प्रभावित फसलों का सर्वे कराने के निर्देश जिला प्रशासन को देते हुए उन्होंने कहा कि पाले से प्रभावित फसलों के लिये बीमा कम्पनी से भी चर्चा कर बीमा राशि दिलाने का प्रयास किया जायेगा।

बलात्कारियों को मिले फांसी

श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि महिलाओं पर अत्याचार करने वाले छोड़े नही जायेंगे। ऐसे अपराधियों के न तो ड्रायविंग लायसेंस बनेगें और न ही जाति प्रमाण-पत्र। उन्हें सरकारी नौकरी भी नही मिलेगी। उन्होंने कहा कि बलात्कारियों को फांसी की सजा हो,ऐसा प्रस्ताव भारत सरकार को भेजा गया है। प्रदेश सरकार द्वारा केवल बेटियों के माता-पिता को पेंशन देने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने जन सामान्य से बेटे-बेटी में किसी प्रकार का भेदभाव नही करने की अपील की।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कृषि को लाभ का धंधा बने, इस ओर लगातार प्रयास किये जा रहे है। सिंचाई सुविधाओं का विस्तार किया जा रहा है ताकि खेतों की एक-एक इंच जमीन को पानी मिले। उन्होंने नर्मदा नदी को क्षिप्रा से जोड़ने की जानकारी देते हुये कहा कि नर्मदा का पानी लिफ्ट द्वारा कालीसिंध,पार्वती और गंभीर नदी में छोड़ा जायेगा। तकनीकी दृष्टि से संभव हुआ तो नेवज नदी को भी जोड़ने का प्रयास किया जायेगा। उन्होंने मोहनपुरा और कुण्डालिया में बाँध बनाये जाने का भी आश्वासन दिया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ‘‘आज की बेटी कल की माँ, परसो दादी-ताई बने’’ गीत की सी.डी. का विमोचन किया। उन्होंने जिले में बेटी बचाओ अभियान की प्रशंसा कर जिला प्रशासन को बधाई दी। संस्कार एकेडमी के बेटी बचाओ गीत का समूह गायन करने वाली टीम को और गर्ल्स स्कूल गाइड को भी एक-एक लाख रुपये देने की घोषणा भी की।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पचोर में अधोसंरचना विकास के लिये 2 करोड़ रुपये की घोषणा करते हुए निर्मित होने वाले माल एवं बाय-पास रोड के लिये परीक्षण उपरान्त कार्रवाई कराने का आश्वासन दिया। उन्होंने पचोर में 30 बिस्तर वाले अस्पताल की घोषणा की। उन्होंने कहा कि गौशालाओं में पहले प्रतिदिन प्रति गौ के मान से 5 रुपये खुराक दी जाती, उसे बढ़ाकर अब 10 प्रति रुपये कर दिया गया है।

इस अवसर पर जनसम्पर्क, संस्कृति एवं जिला प्रभारी मंत्री श्री लक्ष्मीकान्त शर्मा, विधायक सर्वश्री गौतम टेटवाल, मोहन शर्मा, पूर्व विधायक सर्वश्री रघुनन्दन शर्मा, हरिचरण तिवारी, रोडमल नागर, नगर पंचायत के अध्यक्ष श्री अशोक पंडित सहित अन्य अधिकारी, जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे।

विकास में कोई कमी बाकी नहीं रखी जाएगी

Posted by mpsamachar On January - 25 - 2013Comments Off on विकास में कोई कमी बाकी नहीं रखी जाएगी

shivraj singh chouhanमुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज अपने गृह जिले सीहोर के विभिन्न ग्रामों का भ्रमण किया और विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लिया। मुख्यमंत्री ने जिले के अपने दो-दिवसीय भ्रमण के दौरान अनेक विकास कार्य को मंजूर किया।

मुख्यमंत्री ने ग्राम चकल्दी में वनवासी सम्मेलन में 112 किसान को वन अधिकार-पत्र एवं खसरे की निःशुल्क प्रमाणित प्रति प्रदान की। उन्होंने 2,966 तेन्दूपत्ता संग्राहक को 35 लाख 32 हजार से अधिक की बोनस राशि तथा गाँव के विकास और लाभार्थी हितग्राहियों की संपूर्ण जानकारी पर केन्द्रित पुस्तिका ’विकास दर्पण’ का वन ग्रामों के सरपंचों को वितरण किया। उन्होंने चकल्दी में आई टी आई और प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र प्रारंभ करने के लिए ग्रामीणों को आश्वस्त किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री की धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह, आदिम-जाति कल्याण एवं सीहोर जिला प्रभारी मंत्री कुँवर विजय शाह सहित स्थानीय जन-प्रतिनिधि, जिला अधिकारी और बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने राज्य सरकार की जनहितैषी योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि समाज के प्रत्येक वर्ग के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएँ संचालित की जा रही हैं। उन्होंने मर्यादा अभियान में ग्रामीणों की सक्रिय भागीदारी की जरूरत बताते हुए गाँव की स्वच्छता और विकास में सहयोग के लिए प्रेरित किया। उन्होंने ग्रामीणों को बेटी और बेटे के बीच फर्क नहीं करने, बच्चों को स्कूल भेजने, नशे से दूर रहने, सद्भाव का माहौल बनाकर गाँव का विकास करने की समझाइश देते हुए प्रदेश के सर्वांगीण विकास में सहयोग की ग्रामीणों को शपथ दिलाई। उन्होंने कहा कि प्रदेश के विकास में कोई कमी बाकी नहीं रखी जाएगी।

सम्मेलन को प्रभारी मंत्री कुँवर विजय शाह ने भी संबोधित किया। उन्होंने आदिवासियों के हित में प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की विस्तार से जानकारी दी।

वन विकास निगम के अध्यक्ष श्री गुरू प्रसाद शर्मा, हाउसिंग बोर्ड के अध्यक्ष श्री रामपाल सिंह, वेयर हाउसिंग कार्पोरेशन के अध्यक्ष श्री राजेन्द्र सिंह राजपूत, मार्कफेड अध्यक्ष श्री रमाकांत भार्गव, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री धर्मेन्द्र सिंह चौहान, नगर पंचायत अध्यक्ष श्री द्वारका प्रसाद अग्रवाल, श्री रघुनाथ सिंह भाटी, श्री लखन यादव, श्री राम सजीवन यादव, श्री मारूति शिशिर, श्री ललित शर्मा सहित स्थानीय जन-प्रतिनिधि एवं बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।

लोकार्पण

मुख्यमंत्री श्री चौहान बुधवार की देर शाम ग्राम छीपानेर पहुँचे और धूनीवाले बाबा के समाधि-स्थल पर सपत्नीक पूर्जा-अर्चना की। मुख्यमंत्री ने छीपानेर में भक्त-निवास का लोकार्पण भी किया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि अस्पताल में निःशुल्क दवा वितरण के अलावा अब विभिन्न प्रकार की जाँच निःशुल्क की जाएँगी। उन्होंने बताया कि छीपानेर में इंटेक वेल एवं वाटर ट्रीटमेन्ट प्लांट का निर्माण कर नारायणपुर, इटारसी, बगवाड़ा, बड़नगर, ससली सहित एक दर्जन गाँव में पेयजल आपूर्ति की जाएगी। उन्होंने ग्राम छीपानेर में खेल मैदान, ग्राम इटावा और बड़नगर के प्राथमिक स्कूलों का मिडिल स्कूल में उन्नयन तथा ग्राम बोरखेड़ाकलां में हाई स्कूल को हायर सेकण्डरी स्कूल में उन्नयन करने की मंजूरी दी। उन्होंने ग्राम रिछाड़िया कदीम में तालाब को गहरा कर सुंदर बनाने के निर्देश दिए।

विकास और जन-कल्याण की दृष्टि से 2013 को ऐतिहासिक वर्ष बनाना है

Posted by mpsamachar On January - 4 - 2013Comments Off on विकास और जन-कल्याण की दृष्टि से 2013 को ऐतिहासिक वर्ष बनाना है

SHIVRAJSINGH-1मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा है कि बीते वर्ष की तरह वर्ष 2013 को भी विकास और जन-कल्याण की दृष्टि से ऐतिहासिक वर्ष बनाना है। श्री चौहान ने सभी विभागों को सुशासन की कार्य-योजना बनाने के निर्देश दिये हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज यहाँ मंत्रालय में संयुक्त बैठक ले रहे थे। बैठक में मंत्रीमंडल के सदस्य, मुख्य सचिव, पुलिस महानिदेशक सहित प्रमुख सचिव, सचिव और विभागाध्यक्ष उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बैठक में नव वर्ष की शुभकामनाएँ देते हुए कहा कि टीम मध्यप्रदेश प्रदेश की जनता के जीवन को और बेहतर बनाने के लिये लगातार काम करें। उन्होंने राज्य सरकार की प्राथमिकताएँ स्पष्ट करते हुए कहा कि सिंचाई के क्षेत्र में बीते वर्ष बहुत अच्छा काम हुआ है, जिससे कृषि के क्षेत्र में 18 प्रतिशत की विकास दर हासिल की गई। नये वर्ष में सिंचाई का क्षेत्र 24 लाख हेक्टेयर तक पहुँचाये। सिंचाई के क्षेत्र में हर संभावना का दोहन करें। नर्मदा क्षिप्रा को जोड़ने की परियोजना को एक वर्ष में पूरा करे। गंभीर नदी को नर्मदा से जोड़ने तथा खान नदी की परियोजना पर भी काम शुरू करें। बेहतर सड़कों की प्राथमिकता बताते हुए कहा कि प्रदेश में सभी सड़कें अच्छी हो। बिजली के संबंध में उन्होंने कहा कि जनवरी से क्रमशः जिलों में 24 घंटे बिजली प्रदाय करने का काम शुरू किया जाये। फीडर सेपरेशन का काम निर्धारित अवधि में गुणवत्ता के साथ पूरा हो। उन्होंने कहा कि किसानों को ठंड के समय खेतों में सिंचाई के लिये नहीं जाना पड़े इसके लिये विद्युत आपूर्ति के समय में परिवर्तन की योजना बनाये।

लघु और कुटीर उद्योगों का जाल बिछाये

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि खेती को लाभ का धंधा बनाने के संकल्प को पूरा करने के लिये इस वर्ष भी कृषि क्षेत्र में 18 प्रतिशत विकास दर के लक्ष्य को ध्यान में रखकर कार्य करें। उद्यानिकी, दुग्ध उत्पादन और मत्स्य उत्पादन के क्षेत्र में व्यापक संभावनाओं को ध्यान में रखते हुए काम करें। उद्योगों के क्षेत्र में नीतियों में आवश्यक सुधार किये गये हैं। ग्लोबल मीट के दौरान किये गये एम.ओ.यू की लगातार मानीटरिंग करें। अब लघु और कुटीर उद्योगों का जाल बिछाने के लिये काम करें। उन्होंने कहा कि कौशल विकास के क्षेत्र अच्छा काम हुआ है पर और काम करने की गुंजाइश है।

गरीबों के कल्याण की योजनाएँ राज्य सरकार की प्राथमिकता

मुख्यमंत्री ने कहा कि गरीबो के कल्याण की योजनाएं राज्य सरकार के लिये महत्वपूर्ण प्राथमिकता है। इन योजनाओं को प्रामाणिकता के साथ बेहतर ढंग से क्रियान्वित करें ताकि लोगों के जीवन-स्तर में सुधार हो। उन्होंने कहा कि प्रदेश में महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में बेहतर काम हुआ है। श्री चौहान ने महिलाओं के प्रति अत्याचारों को पूरी तरह से रोकने के लिये काम करने को कहा। महिला हेल्प लाईन 24 घंटे चले और इस पर मिलने वाली सूचनाओं पर तत्काल कार्रवाई हो।

हर जिले में डीएसपी करेंगे विवेचना

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश में महिलाओं के विरूद्ध अपराधों में प्रभावी अंकुश के लिये कहा कि हर जिले में डीएसपी स्तर के अधिकारी की विवेचना अधिकारी के रूप में तैनाती की जायेगी। दो सप्ताह में चार्जशीट दाखिल की जायेगी। ऐसे कुकृत्य करने वालों को सरकारी नौकरी नहीं मिलेगी। साथ ही ड्रायविंग लायसेंस भी निरस्त किये जायेंगे।

गाँवों के विकास के लिये महत्वपूर्ण होगा यह वर्ष

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ग्रामीण विकास से संबंधित पंच-परमेश्वर योजना, मर्यादा अभियान और आवास कुटीरों को केंद्रित कर काम करने की बात कही। उन्होंने कहा कि यह वर्ष गाँवों के विकास की दृष्टि से महत्वपूर्ण होगा। शहरी विकास के लिये भी अधोसंरचना तथा विकास मिशन के क्रियान्वयन से बेहतर परिणाम मिलेंगे। स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र को महत्वपूर्ण बताते हुए उन्होंने कहा कि निःशुल्क औषधि वितरण योजना के क्रियान्वयन की लगातार मानीटरिंग की जाये। ग्रामीण स्वास्थ्य समितियों को सक्रिय किया जाये। ग्रामीण क्षेत्र में चिकित्सकों की उपलब्धता सुनिश्चित की जाये।

रोजगार के लिये पर्यटन संभावनाओं वाला क्षेत्र

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि रोजगार की दृष्टि से पर्यटन बहुत संभावना वाला क्षेत्र है। इसमें तेजी से काम किया जाये। उन्होंने युवाओं के रोजगार के लिये ऋण गारंटी और अनुदान की योजना शीघ्र बनाने को कहा। लोगों से संवाद के अनूठे प्रयोग पंचायत को इस वर्ष भी जारी रखा जायेगा। सभी निर्माण विभाग अपने प्रदेश के युवाओं को अवसर उपलब्ध करवाने के लिये कांट्रेक्टर ट्रेनिंग दें। लोक सेवा प्रदाय गारंटी अधिनियम का सभी विभाग प्रभावी क्रियान्वयन करें। विकास के लिये उपलब्ध धनराशि समय से खर्च हो, इस पर ध्यान दें। शिक्षा के क्षेत्र में और बेहतर करने के प्रयास करें। इसमें नागरिक संस्कार देने वाली नैतिक शिक्षा को शामिल करें। गेहूँ उपार्जन की अग्रिम व्यवस्थाएँ करें। सहकारी बैंकों में कोर बैंकिंग की व्यवस्था करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बजट सत्र के पहले वरिष्ठ अधिकारी क्षेत्र का दौरा करें। ग्रामीण शहरी परिवहन को बेहतर बनाने के लिये समय-सीमा में योजना बनाये। राजस्व अर्जित करने वाले विभाग बिना टेक्स बढ़ाये राजस्व वृद्धि की योजना बनाये।

प्रधानमंत्री ने दी मध्यप्रदेश में विकास के क्षेत्र में अच्छे काम के लिये बधाई

बैठक में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि पिछले दिनों दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय विकास परिषद की बैठक के दौरान प्रधानमंत्री ने मध्यप्रदेश को बधाई देते हुए कहा कि यहाँ विकास के क्षेत्र में बहुत अच्छा काम किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने इसका श्रेय पूरी टीम को दिया। उन्होंने कहा कि पूरे देश की नजरें मध्यप्रदेश में किये जा रहे विकास कार्यों पर है। बीते वर्ष प्रदेश को लोक सेवा गारंटी अधिनियम के लिये संयुक्त राष्ट्र का सेवा अवार्ड मिला। इसी वर्ष कृषि में 18 प्रतिशत की ऐतिहासिक विकास दर के लिये प्रदेश को कई पुरस्कार मिले। आगामी 15 जनवरी को भारत शासन की ओर से राष्ट्रपति सम्मानित करेंगे।

adhi mahotsav 2017 adhi mahotsav bhopal adhi mahotsav news bhopal haat bazaar top trifed bhopal आदि महोत्सव इंदौर उज्जैन खण्डवा गुना ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट ग्वालियर चर्चा निधन पन्ना पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी बाबा रामदेव बैठक भेंट भोपाल भोपाल हाट मंत्रालय मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री निवास मुख्यमंत्री श्री चौहान मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान मुलाकात युवा राज्यपाल राज्यपाल श्री राम नरेश यादव राज्य शासन राज्य सरकार राष्ट्रीय जनजातीय उत्सव रोजगार लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग लोकार्पण विमोचन शुभारंभ श्री शिवराजसिंह चौहान श्री शिवराज सिंह चौहान सीहोर हत्या