20
June - 2018
Wednesday
SUBSCRIBE TO NEWS
SUBSCRIBE TO COMMENTS

बिन्नी ने वापस लिया आप से समर्थन

Posted by mpsamachar On February - 5 - 2014Comments Off on बिन्नी ने वापस लिया आप से समर्थन

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: आम आदमी पार्टी द्वारा निष्कासित विधायक विनोद कुमार बिन्नी ने केजरीवाल सरकार से समर्थन वापस ले लिया है. बिन्नी ने समर्थन वापसी के बाद कहा कि केजरीवाल किसी भी भ्रष्ट आदमी से ज्यादा खतरनाक है.

बिन्नी को बुधवार को दिल्ली के उपराज्यपाल नजीब जंग को पत्र लिख कर समर्थन वापसी की जानकारी दी. इस पत्र में उन्होने लिखा कि मैं आपको यह बताना चाहता हूं कि वह (केजरीवाल) सिर्फ दिल्ली के लोगों को ही झूठ बोलकर धोखा नहीं दे रहे, बल्कि सभी देशवासियों से झूठ बोल रहे हैं और उन्हें धोखा दे रहे हैं.

उल्लेखनीय है कि इससे पहले कई बार आम आदमी पार्टी और केजरीवाल का विरोध करने के चलते आप ने बिन्नी को पार्टी से निष्कासित कर दिया था. बिन्नी इससे पहले भी मंत्री पद न मिलने और लोकसभा के लिए सीट ना मिलने के चलते पार्टी और केजरीवाल का खुलकर विरोध कर चुके थे और केजरीवाल को तानाशाह बता चुके थे.

इसके बाद बिन्नी ने गत रविवार को पाँच विधायकों के समर्थन का दावा करते हुए धमकी दी थी कि यदि उनकी विधानसभा चुनाव से पहले किए गए वायदों को पूरा करने की मांगे पूरी नहीं होती हैं तो वे सरकार गिरा देगे, हालांकि मंगलवार को दिल्ली सरकार को बचाए रखने के लिए जरूरी विधायकों शोएब इकबाल और रामबीर शौकीन ने यह भरोसा दिलाया था कि वे सरकार का समर्थन करना जारी रखेंगे.

झूठ बोल रहे हैं दिल्‍ली के सरताज केजरीवाल?

Posted by mpsamachar On January - 21 - 2014Comments Off on झूठ बोल रहे हैं दिल्‍ली के सरताज केजरीवाल?

आम आदमी पार्टी के दो झूठ?

सेक्स और मादक पदार्थ तस्करी से ताल्लुक होने के आधार पर ‘युगांडा और नाइजीरिया’ की महिलाओं को निशाना बनाकर मारा गया छापा जहां दिल्ली के विधि मंत्री सोमनाथ भारती के लिए जी का जंजाल बन गया है, वहीं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अपने साथी के बचाव में कूद गए हैं।

केजरीवाल का दावा है कि युगांडा दूतावास के एक अधिकारी ने हाल में सोमनाथ भारती से मुलाकात कर इस कार्रवाई का समर्थन किया था। हालांकि, विदेश मामलों के मंत्रालय का कहना है कि युगांडा के तमाम दूत दिल्ली से बाहर गए हुए हैं।

रेल भवन के बाहर धरने पर बैठे केजरीवाल ने एक चिट्ठी भी दिखाई, जो कथित तौर पर दूतावास के अधिकारियों की तरफ से लिखी गई थी। और इस चिट्ठी में सोमनाथ के दावों का समर्थन करने की बात कही गई है।

विदेश मंत्रालय का दावा, झूठ है यह सब

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि युगांडा दूतावास की एक महिला ‌रविवार शाम सोमनाथ भारती से मिलने आई ‌थी और उसने कहा, “आपने बहुत अच्छा किया, हमारे देश की कई महिलाओं की तस्करी की जाती है।” वह एक चिट्ठी भी लाई थी।

हालांकि, कुछ घंटे बाद विदेश मंत्रालय ने इस बात से साफ इनकार किया कि युगांडा दूतावास ने बीते कुछ दिनों में भारत सरकार से संपर्क साधा है, क्योंकि उसके ज्यादातर दूत शहर में हैं ही नहीं।

आम आदमी पार्टी और केजरीवाल की तरफ से यह भी कहा गया था कि यह पत्र उन्हें सौंपा गया था, जबकि यह मुमकिन नहीं है। दिल्ली सरकार को यह पत्र सौंपने का कोई मतलब नहीं बनता।

पत्र अब का नहीं, पिछले साल जून का

विदेश मंत्रालय का कहना है कि यह पत्र जून 2013 का है और तब से अब तक युगांडा सरकार ने यह मामला भारत सरकार के सामने उठाया ही नहीं है।

सूत्रों का कहना है कि युगांडा उच्चायोग के सभी अधिकारी अवकाश पर हैं और इस वक्‍त दिल्ली में नहीं हैं। एक शख्स ही सोमवार को लौटा है।

जूनियर रैंक के एक अधिकारी ने विदेश मंत्रालय को बताया अब तक किसी ने युगांडा दूतावास से संपर्क नहीं साधा है। मंत्रालय के प्रवक्ता सय्यद अकबरुद्दीन ने बताया, “हमें युगांडा मिशन ने बताया है कि उसके किसी भी अधिकारी ने दिल्ली सरकार के मं‌त्रियों से मुलाकात नहीं की है।”

मना किया, तो कहां से आ गए समर्थक?

मुख्यमंत्री ने कहा था कि राजधानी में गणतंत्र दिवस को लेकर तैयारियां की जा रही हैं ऐसे में धरने पर बैठने के लिए जनता और समर्थकों को नहीं आना चाहिए। लेकिन तब तक हरियाणा और उत्तर प्रदेश वाली AAP इकाइयों को मैदान में उतार दिया था।

पार्टी सूत्रों का कहना है कि समर्थकों को बुलावा भेजने वाले एसएमएस पड़ोसी राज्यों में रविवार दोपहर ही भेज दिए गए थे। पार्टी की प्रदेश इकाइयों के नेताओं का कहना है कि वे पिछले दिन शाम में ही दिल्ली लौटे।

उन्होंने कहा, “हम में से कई रविवार को ही दिल्ली आ गए, क्योंकि जानते थे कि पुलिस वहां बैरिकेड लगा देगी, जहां धरना दिया जाना है। हरियाणा के करीब 150 लोग धरनास्‍थल पर हैं, जबकि 800 से ज्यादा बैरिकेड के पीछे खड़े हैं। अगर जरूरत पड़ी, तो हम केजरीवालजी के साथ दस दिन अनशन पर बैठने के लिए भी तैयार हैं।”

रीवा में छिपा है उमा भारती को मारने की धमकी देने वाला!

Posted by admin On June - 29 - 2012Comments Off on रीवा में छिपा है उमा भारती को मारने की धमकी देने वाला!

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती को मोबाइल पर धमकी देने वाले युवक की टावर लोकेशन रीवा में मिली है। आरोपी जिस सिम का इस्तेमाल कर रहा है वह फर्जी नाम से इश्यू है। पुलिस आरोपी के मोबाइल नंबर की कॉल डिटेल खंगाल रही है। इस पूरे मामले पर इंटेलीजेंस भी नजर रखे हुए है।
पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती के मोबाइल पर 26 से 28 जून तक लगातार एक युवक द्वारा अभद्र बातें और जान से मारने की धमकी दी जा रहीं थी। उन्हें 28 जून को भोपाल से दिल्ली जाते समय भी धमकी मिली। इस संबंध में उमा भारती द्वारा आईजी कानून व्यवस्था एसके पांडे को शिकायत की गई थी।
पुलिस तुरंत हरकत में आई और उमा भारती के सुरक्षा गार्ड कंपनी कमांडेंट प्रदीप सिंह तोमर की शिकायत पर श्यामला हिल्स पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया। पुलिस ने जब आरोपी युवक के मोबाइल नंबर की डिटेल निकाली तो पता चला कि नंबर सतना निवासी मीराबाई के नाम इश्यू है।
जिसका उक्त सिम से कोई लेना देना नहीं है। आरोपी ने सिम फर्जी दस्तावेज और आईडी से इश्यू करा रखी है। पुलिस आरोपी के तक पहुंचने के लिए उसके मोबाइल नंबर की काल डिटेल खंगाल रही है।

adhi mahotsav 2017 adhi mahotsav bhopal adhi mahotsav news bhopal haat bazaar top trifed bhopal आदि महोत्सव इंदौर उज्जैन खण्डवा गुना ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट ग्वालियर चर्चा निधन पन्ना पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी बाबा रामदेव बैठक भेंट भोपाल भोपाल हाट मंत्रालय मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री निवास मुख्यमंत्री श्री चौहान मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान मुलाकात युवा राज्यपाल राज्यपाल श्री राम नरेश यादव राज्य शासन राज्य सरकार राष्ट्रीय जनजातीय उत्सव रोजगार लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग लोकार्पण विमोचन शुभारंभ श्री शिवराजसिंह चौहान श्री शिवराज सिंह चौहान सीहोर हत्या